Tag: <span>BHAJAN SAGAR</span>

Maa Ki Mamta – EMOTIONAL SONG ON MAA JARUR SUNE AANKHE HO JAYEGI NAM

Maa Ki Mamta – Haryanvi Ragni Songs

एक बार ये भजन जरुर सुने आपकी आखें भी हो जाएगी नम

दोस्तों हमारे जीवन पता नहीं कसी कसी मुसीबत और दिक्कते आती हैं और हम घबरा जाते हैं पता नहीं आनन् फानन म कुछ भी उल्टा सीधा कर बठ्ते हैं लेकिन हमारे जीवन म एक मनुष्य भगवन ने एसा दिया है जो हमारी हर मुश्किल को आसन कर देती है उसका नाम है “माँ” यह एक एसा सब्द है जो हमे कभी भी नहीं भूलना चाहिए ये नाम अपने दुःख को भूलकर हमारे दुःख को दूर करती है और हमरे धीर बढाती है
अपने जी ते जी किसी भी बात की कोई कमी नहीं रहने देती

Play Songs Name
Maa Ki Mamta – Haryanvi Ragni Song By: Adarsh

Mera jeena hua behal mainu milya na nandala

Ma ki mamta best Bhajans Songs Download MP3 Online, Navratri mata bhajan

Mata BHAJAN: Pahadaanwali Maa Sheraanwali by Sonu Nigam

Mata BHAJAN: Pahadaanwali Maa Sheraanwali by Sonu Nigam Full album bhajan songs

Play Songs Name
Pahadaanwali Maa Sheraanwali – Full album bhajan songs By: Sonu Nigam

Bigdi Banane Waali – Lakhbir Singh Lakha Mp3 Download

Best Mata Navratri Bhajans Songs Download MP3 Online, Mata Ki Bhente or bhajan

Shiv Vivah Shivji Bihaane, Damroo Wale Baba By Pt. Somnath Sharma

BHAJAN: Shiv Vivah Shivji Bihaane, Damroo Wale Baba By Pt. Somnath Sharma, Shankar Vivah free online, shiv vivah somnath sharma song mp3 download, shankar vivah shivji bihane chale mp3 download

Play Songs Name
BHAJAN: Shiv Vivah Shivji Bihaane, Damroo Wale Baba | Shankar Vivah By Pt. Somnath Sharma

शिव महिमा – सज रहे भोले बाबा पुराने डोले मै – शिव भजन – शिव चालीसा

बुढ़ापे मै ध्यान रखेगे ये बातें, तो जीवन में बना रहेगा सुख और प्रेम

जैसा की सभी कहते हैं और हम देखते भी हैं की बुढ़ापे में सौंदर्य चला जाता है। शरीर की बात …

किसी भी काम की सुरुबात करने से पहले इन बातों का ध्यान रखेगे तो जीवन मै नहीं होंगे असफल

जब भी हम किसी कार्य में सफल होना है तो उसके लिए कुछ शर्तें होती हैं, जिनको पूरा करने पर …

अगर हम किसी की परेशानी कर देते हैं तो बह कम करना ही अच्छे नेतृत्व की निशानी होती है

आगे चलते हुए साथ में चलना’ यह मुहावरा नेतृत्व करने वालों के लिए बड़े काम का है, चाहे बात उल्टी …

Mental Stress Remedies – इन खास तरीको से आप मानसिक तनाव को दूर कर सकते हैं…

तनाव क्या है जैसा की हम सब जानते हैं कि शारीरिक और मानसिक रोगों की इन दिनों एक भयंकर बीमारी …

जिनके रोम-रोम मैं शिव हैं बही विष पिया करते हैं Best Shiv Quotes at bhajan sagar

भगवन भोलेनाथ इस समस्त संसार का कल्याण करने बाले हैं जो भी इनके नाम की महिमा का बखान करता है …

Tips to Reduce Evils – ध्यान रखें अगर हमारे अन्दर होंगे ये 2 गुण तो दूर हो जाएंगी बुराइयां

हमारे अन्दर उदारता और संयम का वक्त होना चाहिए। जो लोग आज सार्वजनिक जीवन में सक्रिय, पारिवारिक जीवन में समर्पित, …

पिता और पुत्र की रोचक कहानी पढ़ेंगे तो आप भी सहम जाएंगे

एक बेटा अपने बुडे पिता को व्रदाश्रम एवं अनाथालय में छोड़कर वापस लौट रहा था: उसकी पत्नी ने उसे यह …

कभी भी ऐसा ज्ञान किसी काम का नहीं है, अगर उससे दूसरों को नुकसान हो

एक व्यापारी था, वह अपना व्यवसाय बढ़ाना चाहता था लेकिन इसके लिए उसे एक साझेदार की जरूरत थी। जिससे साझेदार …

Life Management-जब आपको लगे की आप ज्यादतर निराश रहने लगे हैं तो ध्यान रखें ये 3 बातें

हम कभी-कभी कुछ बातें को बिगड़ने से निराशा हावी होने लगती है। और हमे लगता है की क्या कर डालें …

हनुमानजी ने कैसे विभीषण को अपने पक्ष में किया था

अपने व्यवसायिक या ऑफिस की प्रतिस्पर्धा में सभी लोग यह नहीं जान पाते हैं कि कौन अपना है और कौन पराया। लेकिन कई बार शुभचिंतकों का त्याग हो जाता है और दुश्मन को गले लगा लिया जाता है। पर जो लोग ये मानते हैं कि व्यवसायिक रिश्ते एक निश्चित समय सीमा तक ही जीवंत रहते हैं तो वे शायद गलत होते हैं।

क्योकि व्यवसायिक रिश्ते ऐसे टिक सकते हैं लंबे समय तक
व्यवसायिक रिश्तों में भी अपने और पराए की पहचान हो जाए, रिश्ते में थोड़ा प्रेम और विश्वास बनाए रखें तो ये रिश्ता भी निजी रिश्तों की तरह लंबे समय टिका रह सकता है। जिससे आज की व्यवस्था में ऐसा करना थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन समझदारी से काम लिया जाए तो अपने प्रतिस्पर्धी टीम से भी अपने लोग चुने जा सकते हैं। अपने अनुभव और प्रतिभा से ऐसे लोगों को पहचानने और फिर अपने व्यवहार से उनका विश्वास जीतने की आवश्यकता है।

कैसे हनुमानजी ने विभीषण को अपने पक्ष में लिया था
रामायण के सुंदर कांड में हनुमान सीता को खोजने के लिए लंका पहुंच गए। और बो समुद्र लांघकर, अनेक राक्षसों का सामना करते हुए लंका पहुंचे, लेकिन थके नहीं। हमारा व्यवसायिक जीवन भी ऐसा ही है, हम थोड़े प्रयासों में ही थक जाते हैं, और बुद्धि विचलित होने लगती है। हम हनुमानजी के सुंदर कांड से सीख सकते हैं कि अगर अपनी बुद्धि को स्थिर कर लिया जाए तो दुश्मनों के शिविर यानी प्रतिस्पर्धी टीम में भी अपने लोग तैयार किए जा सकते हैं।
सीता को खोजते-खोजते हनुमानजी विभीषण के घर तक पहुंच गए और इस प्रकार उन्हें सफलता हासिल हुयी। हनुमान जी ने कुछ चिह्नों से ही जान लिया कि यहां जो व्यक्ति रहता है, वह श्रीराम के काम आ सकता है। और उन्होंने विभीषण से मित्रता की। उसे भरोसा दिलाया कि श्रीराम अपनी शरण में आने वाले को पूरे स्नेह से रखते हैं। हनुमानजी ने विभीषण को अपनी प्रेमभरी भाषा में एक मौन निमंत्रण दे दिया, श्रीराम की शरण में आने का। विभीषण जो अभी तक लंका में उपेक्षित से थे, उन्होंने भी ये बात समझ ली।
विभीषण और हनुमानजी के बीच एक रिश्ता बन गया। जिससे उनमे प्रेम उपजा, विश्वास दृढ़ हुआ और विभीषण ने लंका छोड़कर श्रीराम की शरण ली। श्रीराम ने भी हनुमान के विश्वास को पूरी तरह बनाए रखा। विभीषण से मिलते ही उसका राजतिलक कर दिया। मित्र बना लिया।

Maye ni maye gwale jhut bada marde

Play Songs Name
Maye ni maye gwale jhut bada marde Shadhvi Purnima, Bhaiya Puran pagal

भजन: जप ले राधा नाम रे मनवा जपले राधा नाम

Play Songs Name
Jap le radha naam re manwa Shadhvi Purnima, Bhaiya Puran pagal

Hum garibon ki sunlo kahani radha rani hamari maharani Mp3

Play Songs Name
Hum garibon ki sunlo kahani radha rani hamari maharani Mp3 Shadhvi Purnima, Bhaiya Puran pagal

Krishan Bhajan : Kahan Chhup gaya pyar meri akhiyon ka tara

Play Songs Name
Kahan Chhup gaya pyar meri akhiyon ka tara Shadhvi Purnima, Bhaiya Puran pagal

Sadhvi Purnima Ji Bhajans – Ek Baar Humse Sanware Najre Milaye MP3

Loki Puchde Ne Haal Ki Banaya Mp3 – Bhaiya Puran pagal

Play Songs Name
Loki Puchde Ne Haal Ki Banaya Mp3 Shadhvi Purnima, Bhaiya Puran pagal

Kabhi Sadi Gali bich aaja mere bake piya Bhajan