Where’s God ? – देवता कहाँ है ?  क्या इन मिट्टी की मूर्तियोँ मे अथवा ऊँचे मन्दिरोँ मे देवता विराजमान है ? पढ़े पूरी कहानी

Where’s God ? – देवता कहाँ है ? क्या इन मिट्टी की मूर्तियोँ मे अथवा ऊँचे मन्दिरोँ मे देवता विराजमान है ? पढ़े पूरी कहानी

देवता कहाँ है ?
क्या इन मिट्टी की मूर्तियोँ मे अथवा ऊँचे मन्दिरोँ मे देवता विराजमान है ?
नही यह केवल हमारा वहम है ?
देवता तो केवल हमारी आत्मा हमारी भावनाओँ मे बसे हुए है ?
भावना और श्रद्धा का नाम ही देवता है ? आत्मा मन्दिर है ?
जैसी ही आपकी भावनाँए होगी वैसे ही देवता का रूप होगा यह न भूले की यह सारा संसार भावनाओ पर ही आधारित है ? आपकी भावनाँए कैसी है ?
भावनाओँ का प्रभाव ही जीवन के हर पहलू मे पडता है ?
जैसी जिसकी भावना होगी वैसा ही फल मिलेगा इसलिए अच्छा फल पाने के लिए अपनी भावनाओँ को शुद्ध रखिए विषय ? भोग वासना सब बुराईयो के जड माने जाते है ?
इसलिए इन बुराइयो को सदा अपने आप से दूर रखो इनके स्थान पर दया सत्य प्रेम को अपने साथ रखो ?
यदि जीवन का वास्तविक सुख पाना चाहते हो तो अपने आपको सदा बराइयोँ से दूर रखे यह सुख अच्छी आदतोँ से ही मिलते है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + three =